रॉटरडैम बंदरगाह और विश्व हैकर हमले का शिकार टीएनटी

27 जून, 2017 को रैनसमवेयर हमले के कारण अंतरराष्ट्रीय कंपनियों में आईटी खराबी थी।

नीदरलैंड में, एपीएम (सबसे बड़ा रॉटरडैम कंटेनर ट्रांसफर कंपनी), टीएनटी और फार्मास्यूटिकल्स निर्माता एमएसडी ने "पेट्या" नामक वायरस के कारण अपने आईटी सिस्टम की विफलता की सूचना दी। कंप्यूटर वायरस यूक्रेन में शुरू हुआ जहां इसने बैंकों, कंपनियों और यूक्रेन के बिजली नेटवर्क को प्रभावित किया और फिर पूरी दुनिया में फैल गया।

साइबर सिक्योरिटी कंपनी ईएसईटी डेव मैसलैंड के निदेशक के अनुसार, रैंसमवेयर का इस्तेमाल वानस्पैन वायरस के समान है। हालांकि, अपने पूर्ववर्ती के विपरीत, यह डेटा को परिवर्तित नहीं करता है, लेकिन यह तुरंत जानकारी को पूरी तरह से हटा देता है।

घटना एक बार फिर साइबर सुरक्षा पर सहयोग करने की आवश्यकता की पुष्टि करती है।

शेयर